सरकारी कर्मचारियों के दूसरे बच्चे की पैदाइश पर सरकार करेगी वेतन में बढ़ोतरी , मिलेगी1 साल की छुट्टी , पिता को 30 दिनों का मिलेगा अवकाश , इस राज्य के मुख्यमंत्री ने किया एलान 

सिक्किम में दूसरा बच्चा पैदा करने पर महिला सरकारी कर्मचारी को एक साल की छुट्टी और सैलरी इनक्रीमोंट दिया जाएगा। राज्य में फर्टिलिटी रेट में कमी को लेकर सरकार चिंतित है, जिसे लेकर सरकार ने ये ऐलान किया है।

राज्य सरकार ने कहा, ‘दूसरा बच्चा पैदा होने पर सरकारी महिला कर्मचारी की वेतन वृद्धि की जाएगी। महिला सरकारी कर्मचारियों को एक वर्ष तक अपने नवजात शिशुओं की देखभाल के लिए नि:शुल्क चाइल्ड केयर अटेंडेंट उपलब्ध करवाई जाएगी। 365 दिन की मैटरनिटी लीव और 30 दिन की पैटरनिटी लीव दी जाएगी। इसके अलावा, आईवीएफ प्रक्रिया के लिए वित्तीय सहायता भी दी जाएगी।’

21 जून से लागू की जाएगी नीति

राज्य सरकार इस नीति को 21 जून से लागू करने जा रही है। इसके तहत, दूसरा बच्चा पैदा करने पर एक वेतन वृद्धि, जबकि दो से अधिक बच्चा पैदा करने पर 2 वेतन वृद्धि दी जाएंगी। शुक्रवार को एक समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग (गोले) ने कहा कि राज्य सरकार ने 40 साल और उससे अधिक उम्र की महिलाओं को भर्ती करने का प्रस्ताव दिया है, ताकि नवजात शिशुओं की देख-रेख के लिए उन्हें महिला सरकारी कर्मचारियों के घर पर तैनात किया जा सके। इसके लिए उन्हें 10 हजार रुपये प्रति माह दिया जाएगा।

सिक्किम की कुल प्रजनन दर देश में सबसे कम

नवीनतम राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-5 के आंकड़ों के मुताबिक, सिक्किम की कुल प्रजनन दर (टीएफआर) देश में सबसे कम है। साल 2022 में 1.1 थी, इसका मतलब है कि सिक्किम में महिलाएं औसतन एक से अधिक बच्चे पैदा नहीं करती हैं। टीएफआर शहरी क्षेत्रों में 0.7 और ग्रामीण क्षेत्रों में 1.3 था।

द इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, सिक्किम के मुख्य सचिव वी बी पाठक ने कहा, ‘सिक्किम सरकार द्वारा घोषित वेतन वृद्धि योजना और अन्य सभी उपाय निश्चित रूप से आबादी के लिए हैं क्योंकि जनसांख्यिकीय परिवर्तन का डर है। अभी नीति में सरकारी कर्मचारियों पर ध्यान केंद्रित किया गया है, लेकिन राज्य सरकार इस बात पर विचार कर रही है कि क्या जनता के लिए भी ऐसी वेतन वृद्धि योजना की घोषणा की जा सकती है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here