नियोजित शिक्षक संघ के प्रदेश स्तर के उच्चस्तरीय पदाधिकारियों ने अपने 48 मांगो को लेकर शिक्षा मंत्री श्री चन्द्रशेखर के साथ कि बैठक , थोड़ी देर पहले बैठक हुई सम्पन्न , शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों के इन मांगों को पूरा करने का दीया वचन 

बिहार  पटना….परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ का एक प्रतिनिधिमंडल प्रदेश संयोजक प्रणय कुमार के नेतृत्व में शिक्षा मंत्री के बुलावे पर विकास भवन स्थित मदन मोहन झा स्मृति सभागार पहुंचा।

 

शिक्षा मंत्री एवं विभागीय अधिकारियों के साथ सभी शिक्षक संगठन की बैठक हुई सम्पन्न

 

 पुराने शिक्षकों की भांति वेतनमान,सेवा शर्त,राज्यकर्मी का दर्जा,पुरानी पेंशन योजना समेत 4 दर्जन मांगो को शिक्षा मंत्री के समक्ष रखा।

बैठक में शिक्षा मंत्री के समक्ष नियोजित शिक्षकों के संगठन प्रदेशस्तरीय पदाधिकारियों के द्वारा पुराने शिक्षकों की भांति पूर्ण वेतनमान, पुराने शिक्षकों की सेवा शर्त, राज्य कर्मी का दर्जा, पुरानी पेंशन योजना सहित सामान्य भविष्य निधि, 300 दिनों का संचयी अर्जित अवकाश, उपादान, ग्रुप बीमा, पुरुष शिक्षकों को भी ऐच्छिक स्थानांतरण का लाभ, भूतलक्षी प्रभाव से सेवा निरंतरता का लाभ, स्नातक ग्रेड एवं प्रधानाध्यापक के पदों को प्रोन्नति से भरा जाना,सभी प्रकार का बकाया अंतर वेतन भुगतान, ग्रेड पे के मामले में 2 वर्षों की सेवा बाध्यता की समाप्ति, 10, 20 एवं 30 वर्ष की कालबद्ध प्रोन्नति,नव प्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन निर्धारण में index3 की बाध्यता की समाप्ति,
सेवा पूर्व प्रशिक्षित शिक्षकों को एक वेतन वृद्धि देकर वेतन विसंगति दूर करना, प्रत्येक माह की 1 तारीख को वेतन भुगतान, गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्ति, उच्च शिक्षा हेतु सवैतनिक अध्ययन अवकाश, प्रधान शिक्षक प्रतियोगिता परीक्षा में बेसिक ग्रेड के शिक्षकों हेतु 8 वर्ष एवं स्नातक ग्रेड के शिक्षकों हेतु सेवा संपुष्टि की बाध्यता की समाप्ति, नेगेटिव मार्किंग की समाप्ति, B.Ed योग्यता धारी प्राथमिक शिक्षकों हेतु ब्रिज कोर्स का आयोजन, छठे चरण में नियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति तिथि से ग्रेड पे का लाभ, स्नातक योग्यता धारी 8 वर्षों की सेवा पूर्ण कर चुके शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में समायोजन, शारीरिक शिक्षकों को भी स्नातक ग्रेड एवं प्रधानाध्यापक में प्रोन्नति, जनप्रतिनिधियों के अनावश्यक हस्तक्षेप पर रोक ,प्रारंभिक शिक्षकों को शिक्षक निर्वाचन में मताधिकार के प्रयोग की अनुमति, शिक्षकों के सेवानिवृत्ति की आयु 60 वर्ष के स्थान 65 वर्ष करने,31 मार्च 2019 के बाद अप्रशिक्षित रहे शिक्षकों के लिए पूरक परीक्षा आयोजित करने एवं सेवा में बहाल रखने समेत कई मांगों को रखा।

शिक्षा मंत्री ने संगठन की मांगों को गौर से सुनते हुए इसे पूरा करने का भरोसा जताया। बैठक में अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग के साथ निदेशक प्राथमिक शिक्षा, निदेशक माध्यमिक शिक्षा एवं शिक्षा मंत्री के आप्त सचिव उपस्थित थे।

प्रतिनिधिमंडल में महासंघ के प्रदेश कार्यकारी संयोजक नवनीत कुमार, प्रदेश संगठन महामंत्री शिशिर कुमार पांडेय, प्रदेश महासचिव अखिलेश कुमार सिंह, प्रदेश कोषाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह, प्रदेश अध्यक्ष शारीरिक शिक्षक प्रकोष्ठ मनोज कुमार सिंह, अनुपम राजन, प्रदेश मीडिया प्रभारी मृत्युंजय ठाकुर सहित अभय कुमार,रंजीत कुमार एवं टुनटुन कुमार तथा संगठन के कई नेता शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here