15 दिसम्बर से बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड का पालन करना अनिवार्य , शिक्षकों को सरकार देगी ड्रेस के लिए प्रतिवर्ष भत्ता ,   राज्यभर में 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2021 तक चलेगा विद्यालय निरीक्षण कार्यक्रम , सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के ड्रेस कोड के साथ इन इन चीजों की अधिकारी करेंगे   जाँच  , कब से और कितना मिलेगा शिक्षकों को ड्रेस के लिए भत्ता जानने के लिए पूरी खबर पढें - NewstvBihar 15 दिसम्बर से बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड का पालन करना अनिवार्य , शिक्षकों को सरकार देगी ड्रेस के लिए प्रतिवर्ष भत्ता ,   राज्यभर में 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2021 तक चलेगा विद्यालय निरीक्षण कार्यक्रम , सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के ड्रेस कोड के साथ इन इन चीजों की अधिकारी करेंगे   जाँच  , कब से और कितना मिलेगा शिक्षकों को ड्रेस के लिए भत्ता जानने के लिए पूरी खबर पढें - NewstvBihar

15 दिसम्बर से बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड का पालन करना अनिवार्य , शिक्षकों को सरकार देगी ड्रेस के लिए प्रतिवर्ष भत्ता ,   राज्यभर में 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2021 तक चलेगा विद्यालय निरीक्षण कार्यक्रम , सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के ड्रेस कोड के साथ इन इन चीजों की अधिकारी करेंगे   जाँच  , कब से और कितना मिलेगा शिक्षकों को ड्रेस के लिए भत्ता जानने के लिए पूरी खबर पढें

15 दिसम्बर से बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड का पालन करना अनिवार्य , शिक्षकों को सरकार देगी ड्रेस के लिए प्रतिवर्ष भत्ता ,   राज्यभर में 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2021 तक चलेगा विद्यालय निरीक्षण कार्यक्रम , सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के ड्रेस कोड के साथ इन इन चीजों की अधिकारी करेंगे   जाँच  , कब से और कितना मिलेगा शिक्षकों को ड्रेस के लिए भत्ता जानने के लिए पूरी खबर पढें

बिहार पटना। :–कल यानी 15 दिसम्बर से शिक्षा विभाग ने सभी अधिकारियों को विद्यालय निरीक्षण करने का आदेश जारी किया है । विद्यालय निरीक्षण के ये कार्यक्रम राज्यभर में 15 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2021 तक चलेगा । इस विद्यालयी निरीक्षण कार्यक्रम में विभाग ने अपने अधिकारियों को विद्यालय में इन चीजों की निरीक्षण करने का आदेश दिया ।

राज्यभर के सभी सरकारी विद्यालयों प्राथमिक से उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षकों के लिए ड्रेस कोड लागू हो गई हैं । 15 दिसम्बर 2021 से सभी सरकारी शिक्षकों को ड्रेस कोड का शत प्रतिशत पालन करना अनिवार्य है । विभाग ने प्रतिदिन के हिसाब से ड्रेस कोड की रूटीन भी जारी कर दी है , महिला शिक्षिका किस किस दिन कोन से ड्रेस पहन कर स्कूल आएंगी और पुरुष शिक्षकों को किस दिन कौन सा ड्रेस पहन कर स्कूल आना है ।

राज्यभर भर शुरू हो रहे विद्यालयी निरीक्षण कार्यक्रम में अधिकारी शिक्षकों व शिक्षिकाओं के ड्रेस कोड पर नजर रखेंगे ।

ड्रेस कोड का पालन नही करने वाले शिक्षकों से सम्बंधित रिपोर्ट निरीक्षण करने वाले अधिकारी विद्यालय प्रधान से लेंगे ।ड्रेस कोड का पालन नही करने शिक्षकों पर विभाग करवाई करेगी ।

मिली जानकारी के अनुसार बिहार में शिक्षकों के ड्रेस के लिए प्रतिवर्ष 3000 हजार रुपये दिए जाएंगे । शिक्षकों को ड्रेस भत्ता का भुगतान अगले वित्तीय वर्ष से किया जाएगा ।फरवरी में सरकार बजट पेश करेगी । फरवरी में पेश होने वाली बजट में ही सरकार शिक्षकों के लिए ड्रेस भत्ता के रूप में 3000 हजार रुपए प्रतिमाह की दर से देने वाली बिल प्रस्तुत करेगी । ये पूरे राज्य में 1 अप्रेल 2022 से लागू होगी ।

अब यहां के शिक्षक और शिक्षिकाएं निर्धारित ड्रेस में ही स्‍कूल आएंगे। श‍िक्षा विभाग ने इसके लिए निर्देश जारी कर दिया है। कहा गया है कि जो शिक्षक ड्रेस कोड का पालन नहींं करेंगे, उनपर विभागीय कार्रवाई होगी।

इसके लिए प्रधानाध्‍यापक को प्रत्‍येक दिन रिपोर्ट भेजना होगा।

बता दें कि शिक्षक व शिक्षिकाओं के ड्रेस कोड को लेकर विभाग पूरी तरह गंभीर है। 15 दिसंबर से शिक्षक-शिक्षिकाओं के लिए ड्रेस कोड का पालन अनिवार्य हो जाएगा। इसकी अवहेलना करने वाले शिक्षक और शिक्षिकाएं कार्रवाई की दायरे में आएगी।

तय निर्णय के अनुसार सोमवार से शुक्रवार तक शिक्षक पिंक शर्ट व नेवी ब्लू कलर के पेंट के साथ ब्लैक जूता पहनेंगे। इस दौरान शिक्षिकाओं के लिए लाइट पिंक के साथ पिंक कलर का बाडर वाली साड़ी या सलवार सूट पहनना आवश्यक होगा। शनिवार को शिक्षक के लिए सफेद शर्ट-पैंट के साथ सफेद जूता आवश्यक होगा। इस दिन शिक्षिकाएं सफेद साड़ी पहनकर स्‍कूल आएंगी। साड़ी पर लाल बॉडर होना चाहिए।

यह नियम सभी प्रारंभिक, माध्यमिक व उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के लिए लागू होगना। साथ ही ड्रेस कोड का अनुपालन प्रखंड संसाधन कर्मियों के लिए भी करना अनिवार्य होगा। बैठक में इसके लिए सर्वसम्मति से 15 दिसंबर तक आखिरी तिथि निर्धारित की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×